GST Meaning in Hindi

What is GST Meaning in Hindi, GST Meaning in Hindi, GST definition in Hindi, GST Ka Meaning Kya Hai, GST Kya Hai, GST Ka Kya Matlab Hota Hai, Meaning and Definitions of GST in Hindi.

GST का हिंदी मीनिंग; जीएसटी एक डेस्टिनेशन बेस्ड टैक्स है जो कि Goods And Services की सप्लाई पर सेंट्रल और स्टेट गवर्नमेंट द्वारा लगाया जाता है।

GST की हिंदी में परिभाषा और अर्थ, GST Stands for “Goods and Services Tax” और GST का हिंदी में मतलब होता है, कि एक ऐसा tax जो वस्तुओं और सेवाओं पर लगता है. GST की एक खास बात यह है की इसके लागु होने पर वस्तुओं व सर्विसेज पर लगेने वाले अलग अलग टैक्स समाप्त हो गये।

GST Definition in Hindi

GST की शुरुआत वर्ष 2000 में की गई थी. GST Bill को सन 2000 में पहली बार शासन के पटल पर पेश किया था. आपकी जानकारी के लिए बता दे की GST के बनाने से लागु होने तक 17 साल का एक लम्बा समय लगा है, GST Bill को राज्य सभा द्वारा 3 अगस्त 2016 में पास किया गया था ऐसा देश में पहली बार हुआ था, दोस्तों इस Bill को 8 अगस्त 2016 को लोक सभा द्वारा पास किया गया. 29 मार्च 2017 को GST Bill पार्लियामेंट द्वारा पास किया गया. 1 जुलाई 2017 को GST Bill पूर्ण रूप से इस पूरे भारत देश में लागु किया गया।

GST In Hindi

GST ऐसा सेवा कर है जो प्रत्येक मूल्य में जोड़कर लगाया जाता है. वर्तमान समय में GST ने अर्थव्यवस्था को सुधारने में अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. Indian Constitution के अनुसार सभी राज्यों की राज्य सरकार को चीज़ और उत्पादों की बिक्री पर Tax लगाने का अधिकार है, था व सेवाओं और चीज़ के उत्पादन पर Central government अलग से Tax लगाती थी राज्य सरकार और Central government के अलग अलग सेवा कर के कारण Tax प्रक्रिया बहुत जटिल व बेहद उलजन भरी हो गयी थी जिसको आसान बनाने के उद्देश्य से भारत मे GST का‌ शुभारंभ किया गया था इसमें सभी चीज़ पर पुरे भारत वर्ष में सिर्फ एक Tax लगता है।

जीएसटी का फुल फॉर्म गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स होती है, जीएसटी एक तरह का अप्रत्यक्ष कर है जिसे भारत में जटिल अप्रत्यक्ष कर प्रणाली को सरल बनाने के लिए पेश किया गया था। राष्ट्रीय स्तर पर, यह केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा एक ही डोमेन के तहत वस्तुओं और सेवाओं के निर्माण और बिक्री पर लगाए गए अन्य सभी अप्रत्यक्ष करों को लाता है। भारत में, GST केंद्रीय और राज्य स्तर पर लगाए गए सभी अप्रत्यक्ष करों की जगह एक एकल कर है। मूल्यवर्धन के बाद के चरण में प्रत्येक चरण में भुगतान किए गए इनपुट करों के क्रेडिट का लाभ उठाने की सुविधा है।

इसलिए, जीएसटी मूल रूप से एक समेकित कर है और यह कर की एक समान दर के आधार पर होगा और केवल उपभोग के अंतिम बिंदु पर देय होगा, जो आपूर्ति कर पर विचार किए बिना आपूर्ति श्रृंखला में हर चरण में लगाया जाएगा। पिछले चरणों में। टैक्स पर टैक्स लगाने के इस तरीके को करों के कैस्केडिंग प्रभाव के रूप में जाना जाता है। एक उदाहरण लेते हैं; एक वितरक मूल्य के एक उत्पाद को बेचता है रु। अप्रत्यक्ष कर 12% जोड़ने के बाद एक खुदरा विक्रेता को 1000 रु। 1120. फिर खुदरा विक्रेता मूल्य के समान उत्पाद बेचता है। अप्रत्यक्ष कर 12% रुपये में जोड़ने के बाद एक ग्राहक को 1120। 1260. इस परिदृश्य में, करों के कैस्केडिंग प्रभाव के कारण उत्पाद की अंतिम कीमत बढ़ गई है।

GST के Parts

जैसा की हम जानते है, GST को तीन part में बाटा गया है -

  • CGST - ये tax Central Gov. द्वारा वसूला जाता है.

  • SGST - ये tax State Gov. द्वारा वसूला जाता है.

  • ST - ये tax Central Gov. और State Gov. दोनों के द्वारा वसूला जाता है.

GST Ke Fayde

  • GST लागू होने के बाद सबसे ज्यादा फायदा आम जनता को होने वाला है, सभी सामानों की खरिदी पर आम जनता को समान Tax देना होगा.

  • GST के लगने से items पर लगने वाले अलग अलग tax हट गये और सभी पर एक ही tax लागु होने लगा.

  • GST लागू होने पर लग्जरी वस्तुएं का दाम बड़ा और Everyday Items सस्ती हो गयी.

  • GST लागू होने पर अगर दुसरे राज्य से कोई सामान आता है तो उन सामानों की कीमत में कमी हो जाएगी.

  • GST लागू होने पर भारत में कर व्यवस्था आसान हो जाएगी इससे आम जानता को ‘Tax के ऊपर Tax’ लगाने की व्यवस्था से मुक्ति मिलेगी.

  • ST को ऑनलाइन नेटवर्क से जोड़ा गया जिससे कर-दाता को tax देने में आसानी हो गयी.

  • GST लागू होने के बाद Tax Department के अधिकारियों द्वारा Tax में होने वाली हेराफेरी को आसानी से रोका जा सकेगा.

GST Ke Nuksan

  • GST लागू होने के बाद पहले Banking व वित्तीय Services पर लगने वाला tax 15% था लेकिन GST के आने के बाद tax बड़कर 18% हो गया.

  • GST का भुगतान online होने के कारण छोटे व्यापारी जो इस प्रणाली से अंजन थे उन लोगों को काफी समस्याओ का सामना करना पड़ा सकता है.

  • GST लागू होने के बाद अगर आप नया घर खरीदते है तो उसमे 8% तक मूल्य बढ़ सकता है|

  • GST लागू होने के बाद Indirect Tax ज्यादा आने लगेंगे तथा Direct Tax कम हो जाएँगे|

  • GST लागू होने से Railway Ticket पर Service Tax भी बढ़ जाएगा.

  • GST लागू होने के बाद होटल में खाना, हवाई सफ़र का खर्च बढ़ जायेगा और Bima Premium पर भी इसका काफी असर पड़ने वाला है

  • CAR, एसी, चोकलेट, fridge Cooler, इत्यादि पर 28% की दर से Tax लिया जाता है. जो कि विश्व में किसी भी देश द्वारा ली जाने वाली दर से अधिक है.

Other Related Post

  1. Product Meaning in Hindi

  2. Incredible Meaning in Hindi

  3. Propaganda Meaning in Hindi

  4. About Meaning in Hindi

  5. Entrepreneur Meaning in Hindi

  6. Police Meaning in Hindi

  7. Being Meaning in Hindi

  8. Whether Meaning in Hindi